shubh laabh

व्यापार सम्बंधित शुभ महूर्त  

 shubh laabh

 

व्यापार प्रारंभ करने सम्बंधित शुभ महूर्त

वार  सोम, बुध, गुरु, शुक्र, शनि, रविवार
मास क्षय मास, मल मास, अधिक मास में वर्जित
पक्ष दोनों पक्ष
तिथियाँ  द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, अष्टमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी, त्रयोदशी, पूर्णिमा
नक्षत्र अश्विनी, रोहिणी,मृगशिरा,  पुनर्वसु, उत्तराभाद्रपद, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराषाढ़ा, पुष्य, हस्त, चित्रा,अनुराधा, स्वाति, श्रवण, धनिष्ठा, पूर्वा, भाद्रपदा, रेवती
लग्न  कुम्भ लग्न में वर्जित, आठवे एवं बाहरवें घर में
पाप ग्रह त्याज्य
वर्जित दिन महीने के अंतिम दिन, सूर्य संक्रांति के शुरू होने वाले
दिन, वर्ष का आखिरी दिन, अमावस्या

                       ब्याज लेन देन का शुभ महूर्त

वार  मंगलवार को छोड़कर सभी दिन शुभ
मास
पक्ष दोनों पक्ष
तिथियाँ द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, अष्टमी, दशमी,  द्वादशी, त्रयोदशी
नक्षत्र भरणी, कृतिका, अश्लेशा, पूर्वाभाद्रपद, पूर्वाफाल्गुनी,
पूर्वाषाढ़ा, विशाखा
लग्न 
विशेष  मंगलवार को ऋण चुकाना शुभ माना जाता है. बुधवार
को ऋण देना ठीक नहीं मन जाता.

                      वस्त्र निर्माण हेतु शुभ महूर्त

वार शनिवार को छोड़कर सभी दिन शुभ
मास क्षय मास, मल मास, अधिक मास में वर्जित
पक्ष दोनों किन्तु शुक्ल पक्ष अधिक शुभ
तिथियाँ द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, सप्तमी, अष्टमी, दशमी, एकादशी द्वादशी, त्रयोदशी, पूर्णिमा
नक्षत्र मृगशिर, रोहिणी, उत्तराभाद्रपद, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराषाढ़ा, चित्रा, अनुराधा, रेवती
लग्न शुभ लग्न

                        जमीन खरीदने एवं बेचने हेतु शुभ महूर्त

वार गुरु, शुक्र,
मास क्षय मास, मल मास, अधिक मास में वर्जित
पक्ष दोनों किन्तु शुक्ल पक्ष अधिक शुभ
तिथियाँ द्वितीया, पंचमी, षष्टी,  दशमी, एकादशी, पूर्णिमा
नक्षत्र मृगशिर, पुनर्वसु, अश्लेशा, मघा , विशाखा, अनुराधा, मूल,  रेवती
लग्न वृषभ, कर्क, वृश्चिक/ केंद्र में शुभ लग्न/ त्रिकोण में
शुभ ग्रह/तीसरे, छठे, या ग्याहरवें भाव में पाप ग्रह शुभ फलदायी

                    पशु क्रय विक्रय हेतु शुभ महूर्त

वार मंगलवार त्यागकर सभी वार शुभ
मास क्षय मास, मल मास, अधिक मास में वर्जित
पक्ष शुक्ल पक्ष
तिथियाँ द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्टी, सप्तमी,अष्टमी, एकादशी, त्रयोदशी
नक्षत्र अश्विनी, पुनर्वसु, पुष्य, हस्त, विशाखा, ज्येष्ठा,
धनिष्ठा, रेवती
लग्न शुभ लग्न/ केंद्र में शुभ ग्रह / तीसरे, छठे एवं ग्यारहवे भाव में पाप ग्रह शुभ माना गया है

सिनेमा, फिल्म, टी.वी. सम्बंधित कार्य आरम्भ करने हेतु शुभ महूर्त

वार  शुक्रवार अति शुभ,  बुधवार और गुरूवार सामान्य
मास क्षय मास, मल मास, अधिक मास त्यागकर
पक्ष कृष्ण पक्ष 1, शुक्ल पक्ष
तिथियाँ  द्वितीया, तृतीया, पंचमी, अष्टमी,नवमी, द्वादशी
नक्षत्र भरणी, पुनर्वसु,पुष्य, पूर्वाभाद्रपद, पूर्वाफाल्गुनी,
पूर्वाषाढ़ा,
लग्न  चार लग्न/ त्रिकोण में शुभ ग्रह/ तीसरे, छठे एवं
ग्याहरवें घर में पाप ग्रह

2      3


Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web