" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
Pt Deepak Dubey

सूर्य मेष राशि में /Sun in Aries /Sun Transit in Aries

सूर्य मेष राशि में उच्च का 14 अप्रैल ,2015 को

sun-aries-inr

एक वर्ष बाद सूर्य मेष राशि में पुनः उच्च का होने जा रहा है . सूर्य के उच्च राशि में होने का क्या होगा प्रभाव आपके राशि पर , जानिए पं. दीपक दूबे से –

मेष राशि : मेष राशि वालों के लिए सूर्य लग्न में उच्च का हो रहा है , मेष राशि वालों के लिए सूर्य पंचमेश होकर अत्यंत ही शुभ प्रभावकारी है . सूर्य मेष राशि में होने से आने वाले एक महीने तक आपका समाज में बहुत मान – सम्मान बढेगा . शिक्षा – प्रतियोगिता में भी खूब सफलता मिलेगी . जो लोग नौकरी की तलाश कर रहे हैं उन्हें भी सफलता के योग बनेगे . परन्तु सूर्य की यह स्थिति आपके वैवाहिक जीवन के लिए बहुत सुखकर नहीं साबित होगी , अपने संबंधों को संभाल कर रखें .

वृष राशि : वृष राशि वालों के लिए सूर्य द्वादश भाव में उच्च का हो रहा है , इसके कारण आपको अनावश्यक खर्चों का सामना करना पड़ेगा . वृषभ राशि वालों के लिए सूर्य सुखेश है  अतः यहाँ द्वादश भाव में सूर्य के उच्च के होने से पारिवारिक सुख में कमी होगी , विशेष कर यदि सूर्य की दशा अंतर हो तो आपको घर से बाहर की यात्रा भी करनी पड़ सकती है . खर्चों पर नियंत्रण रखने का प्रयास करें अन्यथा बहुत परेशानी हो सकती है .

मिथुन राशि : मिथुन राशि वालों के लिए सूर्य का मेष राशी में उच्च का होना आय में वृद्धि कारक होगा , आपके लिए  सूर्य पराक्रम भाव का स्वामी है जो अब मेष में उच्च का होकर एकादश भाव में आएगा , इसके परिणाम स्वरूप आपके किये हुए प्रयास अत्यंत ही सार्थक होंगे . जन संपर्क तेज होगा और नए कार्य के अवसर भी मिलेंगे .

कर्क राशि : सूर्य का मेष राशि में आना अत्यंत ही शुभ है . कर्क राशि वालों के लिए सूर्य लाभेश है जो अब दसम भाव में उच्च का हो रहा है , यह एक जबरदस्त राजयोग बना रहा है , बाहरी और राज्य सम्बंधित कार्यों से आपको जबरदस्त लाभ मिलने की संभावना बन रही है बशर्ते शनि या राहू की दशा ना हो .  जिन लोगों की सूर्य या गुरु की दशा हो उनका तो कहना ही क्या . बहुत अच्छा समय है लाभ उठायें .

सिंह राशि : सिंह राशि वालों के लिए सूर्य लग्नेश है और अब सूर्य मेष राशि में उच्च का हो रहा है , अर्थात यह आपके भाग्य स्थान पर उच्च का हो रहा है , अतः बहुत ही सौभाग्यकारी है यह सूर्य का मेष राशि में परिवर्तन . यदि किसी दूषित ग्रह की दशा ना चल रही हो तो भाग्य पक्ष अत्यंत ही मजबूत रहेगा , नए कार्यों में नए उत्साह के साथ हाथ डालिए , सफलता मिलेगी .

कन्या राशि : कन्या राशि वालों के लिए सूर्य द्वादश भाव के स्वामी हैं और इस समय यह अष्टम भाव में उच्च के हो रहे हैं , अतः थोडा चोट – चपेट से सावधान रहें , विदेश यात्रा या विदेश से सम्बंधित कार्य करने वालों को इस समय बहुत सफलता मिलेगी क्योंकि यह सूर्य विपरीत राजयोग भी बनाएगा .

तुला राशि : सूर्य का मेष राशि में प्रवेश आपके सप्तम भाव में हो रहा है , इससे कारोबारियों को जो तुला राशि के हैं उन्हें बहुत लाभ होगा , नए अवसर हाथ लगेंगे , साथ ही आयेश के सप्तम भाव में उच्च के होने से आय में भी अप्रत्याशित वृद्धि संभावित है . पारिवारिक जीवन में भी खुशियाँ आयेंगी परन्तु यदि आपकी जन्म कुंडली में शुक्र मजबूत नहीं है तो आपके इच्छा शक्ति में कमी हो सकती है इस समय .

वृश्चिक राशि : वृश्चिक राशि वालों के लिए सूर्य दसम भाव का स्वामी जो बाहरी संबंधों तथा राज्य से सबंध को दर्शाता है , आपके लिए मेष राशि में सूर्य का आना बहुत शुभकारी नहीं है क्योंकि यह राज्यभंग योग का सृजन करेगा . शनि इस समय आपके लग्न में स्थित है अतः इस समय यदि आपका मामला कोर्ट – कचहरी में है तो सावधान रहें , राजदंड  मिल सकता है विशेष कर यदि शनि की दशा भी हो तो .

धनु राशि : धनु राशि वालों के लिए सूर्य भाग्य का स्वामी है और अब यह सूर्य मेष राशि में अर्थात पंचम भाव में उच्च का हो रहा है , अतः इस समय आप अपनी बुद्धि के बल पर बहुत से काम करने में सफल होंगे , कोई भी ऐसा कार्य जो बुद्धि के बल पर किया जाये उसमे आपको अवश्य सफलता मिलेगी . शिक्षा – प्रतियोगिता में जबरदस्त सफलता का योग है . संतान पक्ष से भी मन प्रसन्न रहेगा , अच्छा समय है , लाभ उठायें .

मकर राशि : मकर राशि वालों के लिए सूर्य अष्टम भाव का स्वामी है अतः बहुत शुभ नहीं है , अब मेष राशि में सूर्य चोथे भाव में होगा जिससे पारिवारिक सुख में कमी का एहसास होगा , अपने पिता अथवा उच्च अधिकारीयों से आपका मतभेद उत्पन्न हो सकता है अतः वार्तालाप करते समय अत्यधिक सावधानी बरतें . यदि आपके पिता का स्वास्थ्य अच्छा नहीं चल रहा है तो उनका बेहद ख़याल रखें .

कुम्भ राशि : कुम्भ राशि के जातकों के लिए सूर्य सप्तमेश है , अब यह सूर्य मेष राशि में उच्च का हो रहा है जो आपका तीसरा भाव है अतः आपके पराक्रम में वृद्धि होगी , आत्मविश्वास बढ़ा – चढ़ा रहेगा , भाइयों और मित्रों का खूब सहयोग प्राप्त होगा , परन्तु यह भी ध्यान रखें कि इस मेष राशि में उच्च का सूर्य होने से आपका भाग्य पक्ष कमजोर रहेगा , अतः कोई भी ऐसा कार्य ना करें जो सिर्फ भाग्य के भरोसे हो , अन्यथा आपको हानि उठानी पड़ सकती है .

मीन राशि : मीन राशि वालों के लिए सूर्य दूसरे भाव में उच्च का हो रहा है , आपकी राशि के लिए सूर्य छठें भाव का स्वामी होने से निष्फल योग करता है , छठें भाव के स्वामी का दूसरे भाव में उच्च का होना आर्थिक मामलों में अच्छा परिणाम देने वाला नहीं है . आय कम होगी और खर्च संभले नहीं संभलेगा . कोर्ट – कचहरी के मामलों से भी दूरी बनाकर चलें तो बेहतर . अपनी वाणी पर भी नियंत्रण रखें क्योंकि क्रोध बहुत अधिक आयेगा इस समय .

 

यदि आपके कुंडली में सूर्य अच्छा नहीं है तो –

  1. नियमित सूर्य को अर्घ्य दें 

  2. प्रातः काल आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ करें 

  3. सूर्य से सम्बंधित वस्तुओं का जैसे – गेंहू , लाल वस्त्र , ताम्बे के बर्तन , शहद इत्यादि का दान करें 

  4. सूर्य अत्यंत ही ख़राब हो तो सूर्य की वैदिक शांति करायें 

 

किसी भी ग्रह की शांति , महामृत्युंजय अनुष्ठान , काल सर्प शांति इत्यादि कराने के लिए क्लिक करें – http://astrotips.in/Vedic-Pooja/

शुभम भवतु 

शिव उपासक ज्योतिषविद पं. दीपक दूबे 

 

 

 

 


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web