" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे

guru-chanddal-221x300

Vedic Guru Chandal Shanti Anushthan

वैदिक गुरु चंडाल शांति अनुष्ठान

पं. दीपक दूबे द्वारा

Click Here For English

पं. दीपक दूबे द्वारावैदिक ज्योतिष के अनुसार गुरु चंडाल योग एक अशुभ योग है, जिसमे कमज़ोर ब्रहस्पति या गुरु की युति राहु के साथ बनती है.  इस युति के परिणाम इस बात पर निर्भर करते हैं की यह युति किस घर में बनी है.

गुरु चंडाल दोष किसी भी व्यक्ति को बहुत अधिक महत् वाकांक्षी और स्व-केन्द्रित बना देता है .  स्वभाव के साथ साथ बोली में भी कडवाहट , दूसरों के प्रति आभारी न होना , नकारात्मक प्रवृत्ति परन्तु सफल बनाने की योग्यता गुरु चंडाल योग में देखने को मिलती है.  यह स्थिति  मानसिक कष्ट , तनाव और वित्तीय घाटे  की ओर भी संकेत करती है. घरेलू और वैवाहिक जीवन भी इसके नकारात्मक प्रभाव से बच नहीं पाता.

गुरु चंडाल के नकारात्मक परिणामों को कम करने का एकमात्र प्रभावी उपाय है वैदिक गुरु चंडाल शांति अनुष्ठान.

वैदिक गुरु चंडाल शांति अनुष्ठान  में शुभ महूर्त, दिशा, हवन समिधा का विशेष ध्यान दिया जाता है ताकि राहु और गुरु के नकारात्मक प्रभावों को अधिक से अधिक घटाया जा सके. सभी प्रमुख कर्म काण्ड मेरी देख रेख में संपन्न होते है.

 

गुरु चंडाल दोष शांति अनुष्ठान गुरु और राहु के मन्त्रों का जप+ स्तुति और यज्ञ  Rs. 21,000/-  Request Now

 

अनुष्ठान कराने हेतु संपर्क करे 

  ph icon+91-9990911538

email icon astrotipsindia@gmail.com

 

 


Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web