" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे

Characteristics Of Leo/Leo Facts/ Zodiac Leo/Leo Personality/Leo Traits/Simha Lagna/सिंह लग्न की चारित्रिक विशेषताएं /सिंह लग्न के जातक/ सिंह लग्न की विशेषताएं/ सिंह लग्न

सिंह लग्न के नक्षत्र एवं विशेषताएं 

मघा (चारों चरण), पूर्वाफाल्गुनी (चारों चरण) तथा उत्तराफाल्गुनी (प्रथम चरण)  के  संयोग से

सिंह लग्न बनता  है.

Read In English

simha-150

 लग्न स्वामी : सूर्य
 लग्न तत्व: अग्नि 
 लग्न चिन्ह: सिंह 
 लग्न स्वरुप: स्थिर
 लग्न स्वभाव: क्रूर
 लग्न उदय: पूर्व
 लग्न प्रकृति: पित्त प्रकृति 
 जीवन रत्न:माणिक
 अराध्य: सूर्य  
 लग्न गुण: सतोगुण 
 अनुकूल रंग:पीला, भगवा, श्वेत  
 लग्न जाति: ब्राह्मण  
 शुभ दिन: सोमवार   
 शुभ अंक:1
 जातक विशेषता:अति आत्मविश्वासी 
 मित्र लग्न :मिथुन,मेष,कन्या,धनु, 
 शत्रु लग्न : वृष,तुला 
 लग्न लिंग: पुरुष 

 

सिंह लग्न का स्वामी सूर्य है. सूर्य अभी ग्रहों का राजा  होने के साथ साथ एक तेजस्वी , ओजयुक्त पौरुष का प्रतिनिधित्व करता है. सिंह लग्न में जन्मे जातक निर्भीक, उदार व अभिमानी होते हैं. स्वभाव से दृढ़, साहसी एवं धैर्यशील होते हैं. सूर्य आत्म्कारक ग्रह है अतः सूर्य को आत्मशक्ति एवं आत्म विशवास का कारक माना गया है इसीलिए सिंह लग्न के जातकों में आत्मविश्वास की कभी कमी नहीं होती है. जीवन की कठिन से कठिन परिस्तिथियों में भी आप नहीं घबराते अपितु बिना हिम्मत हारे  अपना रास्ता बनाते हुए आगे निकल जाते है.

सिंह राशि में जन्में जातकों की भौंहे परस्पर मिली हुई तथा जबड़ा भी कुछ-कुछ वैसा ही होता है। इनका शरीरिक गठन मजबूत तथा शरीर लम्बा एवं छरहरा होता है। ये स्वभाव से उग्र होते हैं। प्रायः इन्हें गुस्सा कम ही आता है, किन्तु एक बार आक्रोश में भर जाये तो शांत भी कठिनाई से होते हैं और शत्रु का अन्त तक कर डालते हैं। यूं इनका स्वभाव गम्भीर होता है, किन्तु व्यंग्यात्मक बातें करना इनकी आदत होती है।

सिंह लग्न में जन्मे जातक तेजस्वी , साहसी एवं पराक्रमी होते हैं. बुद्धि एवं पराक्रम के बल पर जीवन में उन्नति प्राप्त करने में समर्थ होते हैं.धन ,ऐश्वर्य, वैभव एवं भौतिक सुखों की आपको कभी कमी नहीं रहेगी. जीवन का अधिकांश समय सुखपूर्वक बीतेगा.

सिंह  लग्न के जातक सिद्धांतवादी होते हैं तथा अपने सिद्धांतों के प्रति सदैव सजग रहते हैं. धार्मिक प्रवृत्ति होने के साथ साथ परोपकारी एवं दयालु होते है.किसी भी प्रकार की प्रतियोगिता में आप अक्सर सफल ही रहते हैं .  सरकारी या गैर सरकारी उच्च पदों पर आसीन अधिकारी अधिकांशतः सिंह लग्न के या  सूर्य के प्रभाव में होते है. सामाजिक मान  प्रतिष्ठा या यश सदैव हे आपके साथ  रहता है.  नेतृत्व की क्षमता भी सिंह लग्न के जातकों में कूट कूट कर भरी रहती है.

ऐसे जातक जीवन को परिस्थितियों के अनुरूप ढालने को तथा परिस्थितियों को स्वानुरूप करने की अदभुत क्षमता रखते हैं। अपने उच्चाधिकारियों के प्रति ये सदैव कृतज्ञ बने रहते हैं। ऐसे जातक अनुशासनप्रिय होते हैं। तथा इनमें आत्मविश्वास कुछ अधिक ही देखने को मिलता है। ये सच्चे प्रेम में विश्वास रखते हैं।  अपनी भावनाओं पर नियंत्रण कैसे रखा जा सकता है, कोई इनसे सीखे।इनमें शासन करने की अद्भुत क्षमता होती है, किन्तु सफल या संतुष्ट हो जाने पर ये प्रायः आलसी हो जाते हैं, पर किसी विशेष उद्देश्य की पूर्ति में आजीवन लगे रहते हैं।

सिंह लग्न के जातकों का व्यक्तित्व आकर्षक होता है जो अन्य लोगों को प्रभावित करता है. आप स्वभाव से निर्भय होते है एवं जीवन में सभी महतवपूर्ण कार्यों को सफलता पूर्वक करते हुए निरंतर आगे बढ़ते हैं. शत्रु या प्रतिद्वंदी आपसे भयभीत रहते हैं. यदि आप दूसरों के साथ भी समानता का व्यवहार करें तो निश्चित रूप से आपकी लोकप्रियता एवं सम्मान में बढ़ोत्तरी होगी.

सिंह लग्न के जातकों में शारीरिक बल की प्रधानता अधिक रहती है. आप  स्वभाव से तेजस्वी , गंभीर एवं निरंतर उन्नत्तिशील होते हैं.

धर्म के मामले में आपके विचार कट्टर न होकर कुछ नरम रहते हैं। धर्म के प्रति आप श्रद्धावान होते हैं . जीवन में यदा कदा धार्मिक अनुष्ठानों को भी संपन्न करते  हैं. योग साधना एवं सत्संग में भी आप पूर्ण रूचि रखते हैं. पहाड़ी इलाकों में भ्रमण करना आपको प्रिय है .

सावधानी: अत्यधिक क्रोध एवं उग्रता से बचें. 

पढ़ें : सूर्य शांति के उपाय 


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web