" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे

Kaamda Ekadashi/Kaamda Ekadashi Vrat /

कामदा एकादशी/ कामदा एकादशी व्रत

27 मार्च (मंगलवार) 2018

Vishnu-Bhagawan

कामदा एकादशी का पौराणिक महत्व 

चैत्र मास के शुक्ल पक्ष में पड़ने वाली एकादशी का नाम कामदा एकादशी है। इस व्रत को विधिपूर्वक करने से समस्त पाप नाश हो जाते हैं तथा राक्षस आदि की योनि भी छूट जाती है। संसार में इसके बराबर कोई और दूसरा व्रत नहीं है।

सागार: इस दिन लूंगों का सागार लेना चाहिए.

फल :इसकी कथा पढ़ने या सुनने से वाजपेय यज्ञ का फल प्राप्त होता है। इस दिन भगवान् विष्णु के पूजन और कामदा एकादशी के महात्म्य के श्रवण व पठन से समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं तथा राक्षस आदि की योनी से मुक्ति मिलती है.

कामदा एकादशी कथा/Kaamda Ekadashi Katha

 

         <पापमोचनी एकादशी                                            एकादशी 2017                                   वरूथिनी एकादशी
    Paapmochani Ekadashi                              Ekadashi 2017                         Varuthini Ekadashi

 


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web