" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "  - पं. दीपक दूबे
 
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "  - पं. दीपक दूबे
 
Pt Deepak Dubey

Kanya Rashifal 2022 : कन्या राशिफल 2022

कन्या राशिफल 2022 सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है. वर्ष 2022 का राशिफल कन्या लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है.  राशिफल 2022 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष परिस्थिति में अपनी कुंडली की जाँच कराकर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचे . अच्छे या बुरे परिणाम आपकी वर्तमान दशा- अंतर दशा पर निर्भर करते हैं.

विशेष :

  • शनि ग्रह वर्ष के प्रारंभ में मकर राशि में रहेंगे फिर कुंभ में जायेंगे फिर इसी वर्ष पुनः मकर में आयेंगे फिर कुंभ में जायेंगे । तो शनि के आगे पीछे होने के कारण जो धनु और मीन राशि के लिए साढ़े साति का प्रभाव पूर्ण रूप से न होकर कम ज्यादा होता रहेगा।
  • इसी प्रकार ढैया का प्रभाव मिथुन और तुला राशिओं को रहेगा और साथ ही कर्क और वृश्चिक राशि को भी प्रभावित करेगी। 
  • राशिफल भले ही लग्न राशि से हो पर, साढ़े साति और ढैया हमेशा चंद्रमा की राशि से देखने का नियम है।
  • जन्म समय चंद्रमा जिस राशि में होता है वहाँ से शनि को देखा जाता हैं।
  • देवगुरू बृहस्पति वर्ष के प्रारंभ में कुंभ में और बाद में मीन राशि को प्रभावित करेंगे। बृहस्पति की दृष्टी भी तीन होती हैं पंचम, नवम, सप्तम इस प्रकार बृहस्पति इन राशिओं को भी प्रभावित करेंगे।
  • राहु- केतु का गोचर इस वर्ष के प्रारंभ में अप्रैल तक वृषभ और वृश्चिक में और उसके बाद मेष और तुला राशि वालों पर इसका प्रभाव रहेगा।
  • इस वर्ष के प्रारंभ में सभी राशिओं के लिए ‘कालसर्प योग‘ बन रहा है ।  सभी राशिओं के लिए यह अप्रैल तक प्रभावित रहेगा और इसके बाद धीरे- धीरे इसका प्रभाव कम होगा ।
  • 2022 में कुल चार ग्रहण होंगे दो सूर्य ग्रह दो चंद्र ग्रहण, चंद्र ग्रहण पूर्ण और सूर्य ग्रहण आंशिक होगा ।

करियर

यह वर्ष धन के दृष्टिकोण से मध्यम परिणाम देने वाला है । वर्ष के पहले भाग में कार्यक्षेत्र पर कुछ अवरोध रहेगा इस कारण से किसी भी काम में तेजी से सफलता नहीं मिलेंगी छोटी मोटी रुकावाटे रहेगी लेकिन वर्ष का अंतिम हिस्सा कार्य व्यापार को बढ़ाने वाला है । कई लोग कार्य व्यापार में कुछ नया जोड़ेंगे, जो लोग व्यापार कर रहे हो ऐसे लोगों की आय में वृद्धि वर्ष के दूसरें भाग में मिलेंगी । वर्ष के प्रारंभ में धैर्य से काम करना होगा, वर्ष के दूसरें हिस्से में काम में गति आयेगीं । जो लोग बेरोजगार है उनको वर्ष के प्रारंभ में जॉब मिलने का योग है, उसमें कुछ कमी आप महसूस करेंगे । वर्ष का दूसरा हिस्सा आत्मबल औरबौद्धिक क्षमता को बढ़ाने वाला है । लेकिन धन के लिए बहुत अधिक योगकरी नहीं, इस साल कर्ज नहीं लेना है क्योकिं ऐसे योग बने है की स्थाई कर्ज रहेगा, ऐसा कर्ज लंबे समय तक आप नहीं चुका पाएंगे । आर्थिक रूप से उतार- चढ़ाव के भी योग बने हुए है . अतः निवेश बहुत सोच समझकर करे, किसी भी प्रकार का रिस्क ना ले। पद- प्रतिष्ठा का योग नये वर्ष में नहीं बना है, जो काम आप कर रहे हैं उसी को ही अच्छे से करे । वर्ष के बीच में थोड़े समय के लिए अच्छे योग बनेंगे । दूसरे के बल पर व्यापार करने पर बड़ी हानि के संकेत है तो इससे आपको बचना है ।

 वैवाहिक जीवन और प्रेम सम्बन्ध

विवाह के लिए अप्रैल के बाद बहुत प्रबल योग शुभ योग बन रहा है ।यदि जन्म कुंडली में हे कोई विवाह सम्बंधित दोष न हो इस वर्ष विवाह के लिए शुभ योग है । प्रेम संबंधों में वैचारिक मतभेद, उतार- चढ़ाव बने हुए है, बौद्धिक टकराव हो सकता है ।

शिक्षाक्षेत्र

शिक्षा क्षेत्र के लिए पूरा साल ही अच्छा रहेगा, उच्च शिक्षा के लिए भी अच्छा योग है । जो सुदूर जा के शिक्षा ग्रहण करना चाह रहे है उनके लिए भी अच्छे योग बने हुए है । बौधिक क्षमता अच्छी रहेगी, आपके निर्णय अच्छे रहेगें, शिक्षा प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए सफलता का योग है, जिस क्षेत्र में भी आप जाना चाहतें है उस क्षेत्र के लिए आप बहुत सही निर्णय लेंगे, और आपको उसमें सफलता प्राप्त हों ।

स्वास्थ्य

वर्ष के पहले क्वाटर में कोई बड़ी समस्या नहीं दिखाई दे रही है । पर अप्रैल के बाद स्वास्थ के लिए काफी संवेदनशील समय है । बहुत से लोगों को हड्डियों से संबंधित समस्या, पेट से संबंधित समस्या, कमर दर्द, पैरों में दर्द, नसों में दर्द, आर्थराइटिस से संबंधित समस्या हो सकती है । पेट में गैस की भी सामान्य समस्या उत्पन्न हो सकती है । कोई भी खतरनाक योग तब तक नहीं बनता जब तक कि आपके जन्म पत्रिका में दशा- अंतर्दशा किसी खराब ग्रह की या मारक ग्रह की न हो । शनि और राहु का प्रभाव आपके शरीर के निचले हिस्से में होगा तो आपको शरीर के उस भाव में समस्या उत्पन्न हो सकती है ।

अन्य

संतान प्राप्ति के लिए वर्ष का पहला क्वाटर और अंत का क्वाटर अच्छा है और मध्य का समय इतना अच्छा नहीं है ।जिनके बच्चें है उनका मन संतान के कारण प्रसन्न रहेगा । यह वर्ष धन की बचत के लिए अच्छा नहीं है, अप्रत्याशित धन खर्च होगा । विचारों में भी उद्विग्नता रहेगी, मन में संदेह रहेगा. आप हर चीज पर संदेह करेंगे , जो आपके व्यक्तिगत और पारिवारिक जीवन को प्रभावित करेगा ।

धन संपत्ति खरीदने के लिए वर्ष का पहला क्वाटर अच्छा है । साझेदारी से कोई काम करना चाहते है तो इस वर्ष अप्रैल के बाद शुरू कर सकते हो उसमें वह अनुकूल रहेगा ।

सावधानियां एवं उपचार

  • अनावश्यक संदेह न करें ।
  • भय रहित रहे ।
  • कर्ज लेकर या अपनी जमा पूंजी लगा कर कोई काम ना करे उससे आपको हानि हो सकती है ।
  • राहु-केतु तथा शनि से संबंधित दान करना चाहिए ।
  • जिस ग्रह की दशा- अंतर्दशा चल रही हो उसका दान करना लाभकारी होगा या तीनों ग्रहों (राहु-केतु तथा शनि) का प्रभाव आप पर होता हो तो तीनों ग्रहों का दान करना आपके लिए लाभकारी होंगा ।
  • बौद्धिक समस्या हो तो राहु से संबंधित पूजा करे ।
  • कार्य व्यापार से संबंधित समस्या हो तो गणेश जी की पूजा करे । शिक्षा के लिए माँ सरस्वती की पूजा करे ।
  • रोग, शत्रु परेशान करे तो बाबा भैरव की पूजा करे ।
  • शनिदेव प्रसन्न करने के लिए उनका दान, पूजन करे या शिवजी की पूजा करे ।

शुभम भवतु 

पं. दीपक दूबे (View Profile)

राशिफल 2022/मेष राशिफल 2022/ वृषभ राशिफल 2022/ मिथुन राशिफल 2022/ कर्क राशिफल 2022/ सिंह राशिफल 2022/ तुला  राशिफल 2022वृश्चिक राशिफल 2022/धनु राशिफल 2022/ मकर राशिफल 2022कुम्भ राशिफल 2022मीन राशिफल 2022


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web