" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
Pt Deepak Dubey

Kark 2018

Kark 2018 – सफलता के सूत्र

कर्क राशिफल 2018 जानने के लिए क्लिक करें 

Aries

कर्क राशि के जातकों के लिए वर्ष  2018 में विभिन्न क्षेत्रों में सफलता पाने के लिए कुछ आसान सूत्र.  निम्नलिखित उपाय या सूत्र अपना कर आप आर्थिक, वैवाहिक जीवन , प्रेम संबंधों तथा अपने स्वास्थ्य में और अधिक सुधार कर वर्ष 2018 को सफल बना सकते हैं.

देखें वीडियो 

धन :

  1. कोई भी बड़ा फैसला लेने से पूर्व दूसरों से सलाह अवश्य करें
  2. इस वर्ष साझेदारी में कोई कार्य ना करें
  3. इस वर्ष साझेदारी के कार्य या स्वयं के व्यापार में घाटा का योग है अतः पैसों के लेन-देन में बेहद सावधानी बरतें
  4. शनि देव को संभव हो तो नियमित अन्यथा प्रत्येक शनिवार को सरसों के तेल से अभिषेक करें
  5. भगवान गणेश को नियमित दूब और लड्डू अर्पित करें और तथा गणेश की स्तुति करें
  6. आय वृद्धि के लिए मोती और ओपल एक साथ पहने.

प्रेम सम्बन्ध :

  1. प्रेम सम्बन्ध या विवाह टूटने की सम्भावना प्रबल है
  2. जीवन साथी आवेशित और क्रोधित रह सकता है अतः स्वयम शांत रहने का प्रयास करें
  3. प्रेम संबंधों में तनाव दूर हो इसके लिए नीली धारण करें या सवा तीन रत्ती का नीलम हलके रंग का धारण करें
  4. प्रेम सम्बन्ध बेहतर हो या बने इसके लिए मूंगा और नीलम एक साथ धारण करें बशर्ते मंगल और शनि की स्थिति ठीक हो और चंद्रमा तथा स्वास्थ्य बेहद अच्छा हो
  5. स्थिति अनियंत्रित हो तो माँ कात्यायनी अनुष्ठान पहले ही कराएँ.

स्वास्थ्य :

  1. खाने में वायु तत्व प्रधान चीजों का सेवन ना करें
  2. वर्ष के प्रारंभ में काली वस्तुओं का दान करें
  3. खीर का नहीं तो गाय के घी से नियमित चंद्रमा के लिए हवन करें
  4. चंद्रमा को अर्घ्य दें , शिव को बिल्वपत्र और सरसों का तेल अर्पित करें
  5. चांदी के बर्तन में पानी पियें और अधिक पियें तथा एक बड़े आकार का मोती और पंचमुखी रुद्राक्ष गले में धारण करें
  6. चंद्रमा यदि ग्रहण योग में हो तो ‘ग्रहण दोष’ /विष्कुम्भ दोष और ‘चन्द्रमा की पूर्ण वैदिक शांति कराएँ’
  7. स्थिति यदि ख़राब हो और अनियंत्रि होने की संभावना हो तो पहले ही ‘महामृत्युंजय अनुष्ठान‘ कराएँ या कम से कम माह में एक बार ‘रुद्राभिषेक’ अवश्य कराएँ

शुभम भवतु 

पं. दीपक दूबे (View Profile)

मेष राशिफल 2018वृषभ राशिफल 2018मिथुन राशिफल 2018सिंह राशिफल 2018कन्या राशिफल 2018तुला  राशिफल 2018वृश्चिक राशिफल 2018/धनु राशिफल 2018मकर राशिफल 2018कुम्भ राशिफल 2018मीन राशिफल 2018


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web