" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
Pt Deepak Dubey

Kark Rashifal 2018 : कर्क राशिफल 2018

Read In English

कर्क 2018- सफलता के सूत्र जानने के लिए क्लिक करें 

Aries

कर्क राशिफल 2018 सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है. वर्ष 2018 का राशिफल कर्क लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है. कर्क राशिफल 2018 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष परिस्थिति में अपनी कुंडली की जाँच कराकर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचे . अच्छे या बुरे परिणाम आपकी वर्तमान दशा- अंतर दशा पर निर्भर करते हैं.

 वर्ष 2018 में ग्रहों की स्थिति

  • बृहस्पति: आपके भाग्य के स्वामी बृहस्पति वर्ष 2018 के आरम्भ में आपके चतुर्थ  भाव में हैं और वर्ष के आधे से अधिक समय तक यानी अक्टूबर मध्य  तक इसी भाव में बने रहेंगे.
  • शनि: शनि वर्ष 2018 के आरम्भ में आपके छठे  भाव में हैं तथा पूरे वर्ष पर्यंत यहीं बने रहेंगे.
  • राहु : वर्ष 2018 के आरम्भ से लेकर  पूरे वर्ष पर्यंत  आपके लग्न स्थान पर रहेंगे .
  • केतु : वर्ष 2018 के आरम्भ से लेकर  पूरे वर्ष पर्यंत  आपके  सप्तम में रहेंगे.

 

 

देखें वीडियो 

आर्थिक स्थिति: वर्ष 2018 आपकी आर्थिक स्थिति में अधिक बदलाव नहीं लाएगा.  आर्थिक स्थिति यदि सुधरेगी नहीं तो खराब भी नहीं होगी इसलिए यदि किसी माह आपको कोई आर्थिक हानि भी उठानी पड़े तो घबराएं नहीं आने वाले दिनों में
आपको इसकी भरपाई हो जाएगी.
यदि आवेशित होकर किसी नई योजना में हाथ डालेंगे तो अवश्य ही हानि के योग बनेंगे. यही स्थिति नौकरीपेशा जातकों के लिए भी रहेगी. आवेश में आकर या क्रोधित होकर वर्तमान नौकरी छोड़कर नई नौकरी की तलाश करना आपको भारी पड़ सकता है. हो सकता है मनचाही नौकरी न मिलने के कारण कुछ दिन घर पर ही गुजरने पड़ें. यह स्थिति आपकी आर्थिक और मानसिक हालत दोनों बिगाड़ देगी.
इस वर्ष किसी भी ऐसे बड़े बदलाव को टालें जो सधे सीधे आपकी आर्थिक स्थिति को प्रभावित करता हो. यदि निर्णय आवश्यक हो तो बहुत सोच समझकर स्थिर बुद्धि से निर्णय लें. इस वर्ष कुछ अनावश्यक खर्च भी संभावित हैं परन्तु आप अपनी सूझ बूझ से उन पर अंकुश लगाने में सफल रहेंगे.

क़र्ज़ लेने से बचें हालाँकि क़र्ज़ लेने की संभावना बनेगी परन्तु जहाँ तक हो सके इसे टालें. कुल मिलकर धन की स्थिति सामान्य रहने वाली है तथा वर्ष के अंत तक आते आते आपकी आर्थिक स्थिति में सकारात्मक बदलाव आने आरम्भ हो जायेंगे.

कार्य व्यापार: वर्ष 2018 में आपका पराक्रम और परिश्रम दोनों ही बढेगा. आप अपनी आर्थिक स्थिति को मजबूत बनाने के लिए अथक प्रयास करेंगे. वर्ष के मध्य में कार्य व्यापार में भी अस्थिरता और संघर्ष की स्थितियां बनेगी. हालाँकि यह लम्बे समय तक नहीं चलेंगी परन्तु आप अपने ही निर्णयों के कारण कार्य व्यापार में उलट फेर कर सकते हैं.

बदलाव की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है. मानसिक द्वन्द के कारण आपकी कथनी और करनी में अंतर रहेगा. शीघ्र धन कमाने की लालसा आपको शेयर मार्किट की ओर आकर्षित करेगी परन्तु वहां भी हानि की संभावना बनेगी. इस समय मानसिक स्थिरता बहुत आवश्यक है.

आप घबराहट में कोई ऐसा निर्णय न लें जो लम्बे समय तक आपको झेलना पड़े . जो लोग साझेदारी के कार्यों से जुड़े हैं उनके लिए यह समय अनुकूल नहीं है. कुछ जातकों की साझेदारी टूट सकती है. कर्ज और शत्रु दोनों से ही परेशानी उठानी पड़
सकती है. हतोत्साहित न हों क्योंकि यह स्थिति अधिक समय के लिए नहीं बनी रहेगी. आपके शत्रु स्वयं ही समाप्त हो जायेंगे. वर्ष के अंत तक आते आते आपको आर्थिक मजबूती मिलेगी .

सभी अवरोधों को झेलते हुए आप निरंतर आगे बढ़ेंगे तथा अपने कार्यों द्वारा अपने परिवार और कुल का नाम का नाम दीपक के समान रोशन करेंगे.

शिक्षा: विद्यार्थियों के लिए वर्ष 2018 सफलता की प्रबल संभावनाएं लेकर आएगा. यदि आप पिछले काफी समय से सफलता पाने के लिए परिश्रम कर रहे थे तो इस वर्ष आपकी प्रतीक्षा समाप्त होगी. आपको अपनी की गयी मेहनत का फल अवश्य
मिलेगा.

जो जातक इस वर्ष अपनी पढाई जारी रखना चाहते हैं उनके लिए भी समय अनुकूल है . आपके लिए शिक्षा के क्षेत्र से सभी रुकावटें दूर होंगी . एकाग्रता और सकारत्मक विचार आपके मजबूत पहलु होंगे. माता पिता का सहयोग बना रहेगा जो आपकी मानसिक शांति बनाए रखेगी.

वर्ष के मध्य में मनोरंजन के लिए आप छुट्टियाँ बिताने जा सकते हैं जो आपको नई ऊर्जा प्रदान करेगा. जो विद्यार्थी पूर्व में ली गई शिक्षा से असंतुष्ट होकर नए क्षेत्र से जुड़ना चाहते हैं उन्हें बहुत सोच समझ कर निर्णय लेना होगा. अपने माता पिता से बिना परामर्श लिए बिना कोई बड़ा निर्णय न लें तथा स्वयं का आंकलन अवश्य करें. किसी अनजान व्यक्ति की मित्रता या परामर्श से बचें .

पारिवारिक एवं सामाजिक स्थिति: वर्ष 2018 वैवाहिक जीवन के लिए कष्टकारी हो सकता है. जो जातक पहले हे दांपत्य जीवन में कलह का सामना कर रहे हैं उनके लिए आने वाला वर्ष 2018 नई कठिनाइयाँ उत्पन्न करेगा. जीवन साथी से वैचारिक मतभेद उत्पन्न होंगे. यदि शनि का दशा –अंतर भी है और जन्म कुंडली में भी सप्तम भाव दूषित है तो विवाह –विच्छेद निश्चित है और साथ ही मामला कोर्ट कचहरी तक भी जा सकता है. आपकी कामेच्छा में वृद्धि होगी जो आपको अनैतिक संबंधों की ओर प्रेरित करेगी.
नए संबंधों में आपकी सजगता आवश्यक है अन्यथा बदनामी का भय बनेगा. अतः विपरीत लिंगियों से मित्रता में यथोचित दूरी बनाए रखें. विवाह योग्य लोगों की बात इस समय बनेगी नहीं, इच्छित जीवन साथी के लिए अभी आपको प्रतीक्षा करनी पड़ सकती है . यदि विवाह हो भी जाता है तो वैचारिक मतभेद बने रहेंगे.
अतः विवाह से पूर्व कुंडली मिलान आवश्यक है. भाई बहनों से भी किसी छोटी बात पर मतभेद की स्थिति उत्पन्न होगी. इस
समय शत्रुओं पर आप हावी रहेंगे . प्रिय व्यक्तियों से वाद विवाद या मतभेद की स्थितियां बनेंगी. फलस्वरूप मान सम्मान में हानि के योग बनेंगे.

धार्मिक यात्राओं तथा विदेश यात्रा का योग बनेगा . यदि बहुत दिनों से एक ही स्थान पर बने हुए हैं तो स्थान परिवर्तन का योग प्रबल हैं. इस वर्ष मकान एवं वाहन का सुख मिलेगा. जो जातक नया मकान या वाहन लेने की इच्छा रखते हैं उन्हें सफलता मिलेगी. आपके ननिहाल पक्ष में समृद्धि बढेगी.
आपके जीवन साथी के स्वास्थ्य के लिए भी यह वर्ष उतार चढ़ाव लेकर आएगा.  पेट की बिमारी जिसे आप बहुt समय से नज़रंदाज़ कर रहे थे इस वर्ष आपको परेशान करेगी. कमर के निचले हिस्से में अंग – भंग होने का योग बनेगा . वर्ष के अंत तक आपको रोग और शत्रुओं से मुक्ति मिलेगी. यदि कोई शत्रु आपको परेशान कर रहा है तो वह अपने आप ही समाप्त हो जायेगा.

सावधानियां :

  • वाहन चलने में सावधानी बरतें
  • दूसरों के कार्यों में हस्तक्षेप और नकारात्मक टिप्पणियों से बचें.
  • उतावलेपन में कोई निर्णय ना लें
  • अनजाना भय परेशान करेगा अतः मानसिक स्थिरता बनाये रखें तथा कोई बड़ा फैसला ना लें
  • स्वास्थ्य इस वर्ष मुख्य मुद्दा हो सकता है विशेष कर यदि शनि , राहू या केतु की दशा – अंतर हो तो
  • शिव की नियमित पूजा करें
  • खाने – पीने में बेहद ख्याल रखें और गर्म चीजें ना खाएं
  • किसी भी प्रकार के व्यसन से दूर रहें अन्यथा बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है
  • शनि /राहू/केतु की दशा अंतर हो तो ” महामृत्युंजय “कराएँ

शुभम भवतु 

पं. दीपक दूबे (View Profile)

 

मेष राशिफल 2018वृषभ राशिफल 2018मिथुन राशिफल 2018सिंह राशिफल 2018कन्या राशिफल 2018तुला  राशिफल 2018वृश्चिक राशिफल 2018/धनु राशिफल 2018मकर राशिफल 2018कुम्भ राशिफल 2018मीन राशिफल 2018


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web