" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
Pt Deepak Dubey

September Rashifal 2016/ September Horoscope 2016/ September 2016/सितम्बर माह का राशिफल 2016/ सितम्बर राशिफल 2016

देखें सितम्बर माह में पड़ने वाले व्रत एवं त्यौहार 

विशेष

आइये देखते हैं क्या कह रहे हैं सितारे इस माह आप सभी के लिए , यह राशिफल लग्न पर आधारित है:

 

मेष : पंचम भाव में सूर्य और राहु की युति ग्रहण योग बनाएगी. मंगल की स्तिथि भी अनुकूल नहीं है अतः यह माह आपके लिए थोडा संघर्षपूर्ण है. किसी भी कार्य को करने के लिए अधिक प्रयास और अधिक परिश्रम करना पड़ेगा फिर भी परिणाम आशा के अनुरूप नहीं आयेंगे. आपका मनोबल और उत्साह गिरेगा और कार्यक्षेत्र में तनाव और अवसाद की स्तिथि उत्पन्न होगी. बहुत अधिक भाग दौड़ करने के बाद ही आप अपनी आय को संतुलित रख पाएंगे परन्तु फिर भी व्यय अधिक होंगे . सितम्बर माह की 17-18 तारीख के उपरान्त भाग्य पक्ष का साथ आपको मिलने लगेगा और आपका कार्य करने का उत्साह बढेगा. माह के अंत में परिश्रम का भी फल मिलेगा.  उत्साहित रहने का प्रयत्न करें . सूर्य की उपासना करें और पानी का सेवन अधिक करें.

Click Here For Career & Finance related Pooja & Anushthaan 

वृष: वृषभ राशि के जातको के लिए यह माह कुछ परेशानी देने वाला होगा. इस माह आपको अपनी संतान से परेशानी उठानी पड़ सकती है. कुछ मानसिक कष्ट या अवसाद की स्तिथि बनेगी. परिवार में तनाव और कलेश की संभावना है. पारिवारिक सुख में कमी और परिवार के सदस्यों के बीच वैचारिक मतभेद उत्पन्न होंगे. किसी गलत व्यक्ति की संगती या गलत व्यक्ति के प्रभाव में आने के कारण धन हानि का योग बन रहा है. ऐसी स्थिति में आर्थिक निर्णय बहुत सोच समझ कर लें. यदि साझेदारी में निवेश करने जा रहे हों तो संभल जाएँ . 19 सितम्बर के बाद भाग्य पक्ष का साथ होगा, स्थितियां अपने आप बदलेंगी. कार्यों में परिश्रम का लाभ मिलना आरम्भ हो जायेगा. घर परिवार में आप शांति और ख़ुशी महसूस करेंगे. यदि नौकरीपेशा हैं तो पदोंनात्ति के योग भी बन रहे हैं. 

Book Your Telephonic Consultancy With Pt. Deepak Dubey Now!

मिथुन: इस माह आपके लिए कुछ असमंजस की स्थिति पैदा होगी. रुके हुए कार्यों के कारण आपमें झुंझलाहट और क्रोध पनपेगा. हालाँकि यह क्रोध आपके लिए लाभप्रद होगा, इसके कारण आपके रुके हुए कार्य पूरे होंगे . परन्तु क्रोध करते समय विवेक से काम अवश्य लें. घर परिवार में कलह और कलेश की स्थिति आ सकती है. आय के नए स्रोत बनेंगे और कार्य व्यापार में उन्नति के योग बन रहे हैं परन्तु घर की अशांति के कारण आप अधिकतर समय तनाव में ही रहेंगे. 

पितृ पक्ष में कराएँ "पितृ दोष शांति"

कर्क: इस माह भाग्य का साथ रहेगा , इसलिए आपके रुके हुए कार्यों को गति मिलेगी और किये हुए परिश्रम का फल भी प्राप्त होगा. धार्मिक कार्यों में रूचि बढ़ेगी. सामाजिक कार्यों में भी आप बढ़ चढ़ कर भाग लेंगे. यदि आप किसी सामाजिक संस्था से जुड़े हैं तो मान सम्मान मिलने के योग हैं. किसी जरूरतमंद की मदद करने  के लिए आप तत्पर रहेंगे. माह के अंत में क्रोध और भावुकता की अधिकता रहेगी और इसी कारण आप अपनी हानि करा लेंगे. विवेक से काम लें और वाणी पर नियंत्रण रखें. कटु वाणी के कारण आप अपने रिश्तों में भी कडवाहट ला सकते हैं. पारिवारिक स्थिति भी शांतिपूर्ण नहीं लग रही है अतः संभलकर चलने की आवश्यकता है. मानसिक उत्तेजना के कारण चोट लगने का खतरा बना हुआ है सतर्क रहें.

सपनों में छुपे संकेतों को जानने के लिए क्लिक करें 

सिंह:  सिंह लग्न के जातकों को सितम्बर माह में बहुत अधिक भाग दौड़ के लिए अपने आपको तैयार करना होगा. 1 सितम्बर को लगने वाले सूर्य ग्रहण के प्रभाव में आप रहेंगे जिसके कारण मानसिक कष्ट और तनाव की स्तिथि उत्पन्न होगी. सही निर्णय नहीं ले पायेंगे , परिश्रम का फल नहीं मिलेगा और व्यर्थ की भाग दौड़ रहेगी.  सूर्य ग्रहण का यह प्रभाव इस माह के आरंभिक  15-16 दिनों तक रहेगा अतः कोई भी महतवपूर्ण निर्णय इस समय न लें. किसी करीबी सम्बन्धी  या मित्र से आपको मानसिक कष्ट मिलेगा. हालाँकि 15-16 सितम्बर के बाद स्थितियां कुछ सुधरेंगी . भाग्य का साथ मिलने लगेगा. बिगड़े हुए कार्य बनेंगे परन्तु फिर भी आपके स्वभाव में चिडचिडापन और क्रोध रहेगा. बेहतर हो यदि सितम्बर माह में  धैर्य और संयम बना कर  रखें  

Get Your Career Horoscope Report By Pt.Deepak Dubey Now!

कन्या : सितम्बर माह आपके स्वास्थ्य के लिए अनुकूल नहीं है. हालाँकि किसी बड़े रोग का खतरा नहीं है परन्तु छोटी बीमारियाँ ही आपको परेशान कर देंगी और पूरे माह चलेंगी. आँख और सर पर इसका प्रभाव रहेगा. चोट की भी संभावना है अतः सावधान रहें. मन बैचैन और अनमना सा रहेगा और इसका सीधा प्रभाव आपके कार्यों पर पड़ेगा. धन की स्थिति सामान्य ही  रहेगी. अस्वस्थ होने के कारण आय में अधिकता के योग नहीं बन रहें है. सरकारी क्षेत्र से भी कुछ रुकावट मिलने की संम्भावना रहेगी. 18-19 सितम्बर के बाद स्थितियां सुधरेंगी और कार्यों को पूरा करने के लिए आपको  किसी का सहयोग प्राप्त होगा, जो लाभदायक रहेगा.

वर्ष 2016 में पड़ने वाले शुभ महूर्त जानने के लिए क्लिक करें.

तुला : सितम्बर माह में आय कम और व्यय अधिक होगा. फ़िज़ूल खर्चों में बढ़ोत्तरी और व्यर्थ की यात्राएं होंगी जो शारीरिक कष्ट के साथ साथ धन की हानि भी करायेंगी. स्वास्थ्य में भी परेशानी उत्पन्न होगी . इस माह  आपका अपने माता पिता के साथ वैचारिक मतभेद उत्पन्न हो सकता है. नौकरी या व्यवसाय में या तो आप परिवर्तन करने की सोचेंगे या परिवर्तन हो सकता है. अपने निकटतम मित्रों या सम्बन्धियों के व्यवहार से आपको मानसिक कष्ट मिल सकता है अतः किसी पर भी भरोसा न करके अपने आप पर विश्वास करें और आगे बढ़ें .

वैवाहिक समस्या हेतु “माँ कात्यायनी अनुष्ठान” करवाने के लिए क्लिक करें 

वृश्चिक : सामाजिक मान प्रतिष्ठा  बढ़ेगी और आपको  समाज से बहुत सहयोग भी प्राप्त होगा. किसी करीबी मित्र या सम्बन्धी का सहयोग आपको इस माह प्राप्त होगा, जिसके कारण आपके रुके हुए कार्य पूरे होंगे. सितम्बर माह में आप पर शनि का पूरा प्रभाव  रहेगा अतः घटना दुर्घटना से बच कर रहें , चोट लगने का खतरा भी बना हुआ है. सब कुछ होते हुए भी इस माह मानसिक तनाव की स्तिथि  बनी रहेगी. आपके हाथों किसी शुभ कार्य के होने की संभावना है . माह के अंतिम 10 दिनों में आय में वृद्धि होने की संभावना प्रबल होगी. गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें.

Book Your Telephonic Consultancy With Pt. Deepak Dubey Now!

धनु: इस माह आप कार्यों में थोड़ी कठिनाई का सामना कर सकते हैं हालाँकि धन लाभ  में कोई परेशानी नहीं होगी. 9 सितम्बर से बृहस्पति अस्त होने जा रहे हैं इस कारण हो सकता है आधे माह के उपरान्त आपको कार्यों में बाधाएं महसूस हों. स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है. क्रोध और उत्तेजना बढ़ने  के कारण आप अपने ही किसी कार्य को बिगाड़  लेंगें. किसी भी प्रकार के व्यसन से बचें . बुरी संगत से दूर रहें.

अकाल मृत्यु से बचने का एकमात्र उपाय ” महा मृतुन्जय अनुष्ठान “

मकर: सितम्बर माह में आपके बनते हुए काम रुक जायेंगे या अचानक कोई बाधा आ जाएगी. स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या भी आपको घेर सकती है. कार्य व्यापार में लाभ सामान्य ही होगा बहुत अधिक लाभ की आशा न करें . नास्तिकता त्याग कर  धर्म के मार्ग पर चलें. सबसे सौहार्दपूर्ण व्यवहार रखें. ज़रुरतमंदों की निस्वार्थ भाव से सहायता करें. परेशानी में भी गलत मार्ग न अपनाएं तो माह के अंत तक आपके मान सम्मान में वृद्धि अवश्य  होगी, आय में वृद्धि और सन्तान से सुख की भी  प्राप्ति होगी.

Get Your 5 yrs Career & Finance Report By Pt.Deepak Dubey Now!

कुंभ: यह माह सुदूर यात्रा की संभावनाएं दिखा  रहा है हालाँकि इसमें आपका धन अधिक व्यय होगा. यात्रा के समय अपने स्वास्थ्य की अधिक देख भाल  करें . सितम्बर माह में हो सकता है आप भूमि, भवन या वाहन पर धन खर्च करें या खरीदें. घर में सुख और सम्पन्नता देने वाली वस्तुओं  पर भी आप इस माह धन खर्च करेंगे. कुल  मिलकर धन खर्च का माह होगा परन्तु आप चिंता न करें क्योंकि  यह सार्थक दिशा में ही होगा.

भयानक पितृ दोष और प्रेत बाधा निवारण हेतु कराएँ “माँ वन दुर्गा अनुष्ठान” 

मीन: सितम्बर माह में तनाव और संघर्ष दोनों ही रहेंगे परन्तु साथ ही उत्थान के भी योग है. इस माह आपको अपने किये हुए परिश्रम का फल मिलेगा और कार्यों  में प्रगति होगी चाहे आप नौकरी में हों या व्यापारर कर रहे हों. व्यापारी वर्ग के लिए उन्नति के नए मार्ग खुलेंगे. नए कार्यों में व्यस्त रहेंगें. अध्यात्म और धार्मिक कार्यों में अपने आप ही आपकी रूचि बढ़ेगी और आप कुछ अच्छे कार्य करेंगे. इस माह के प्रारंभ में आपको अपने क्रोध पर नियंत्रण रखना होगा नहीं तो क्षण भर के क्रोध में आप अपना कोई बहुत बड़ा नुक्सान कर  लेंगे.

शुभम भवतु 

पं. दीपक दूबे (View Profile)


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web