" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
Pt Deepak Dubey

Kanya Rashifal 2020 : कन्या राशिफल 2020

 

Aries

कन्या राशिफल 2020 सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है. वर्ष 2020 का राशिफल कन्या लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है. कन्या राशिफल 2020 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष परिस्थिति में अपनी कुंडली की जाँच कराकर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचे . अच्छे या बुरे परिणाम आपकी वर्तमान दशा- अंतर दशा पर निर्भर करते हैं.

विशेष :

  • इस वर्ष ‘वृहस्पति’ धनु राशि में हैं और नवम्बर महीने में के अन्तिम सप्ताह तक धनु राशि में ही बने रहेंगे |
  • इस वर्ष के मध्य भाग 30 मार्च से जून तक मकर राशि में वक्रिया और मार्गीय होंगे |
  • ‘वृहस्पति’ का सबसे ज्यादा प्रभाव धनु राशि पर होगा | ‘शनि’ 24 जनवरी को मकर राशि में प्रवेश करेंगे और पूरे वर्ष पर्यन्त मकर राशि में रहेंगे |
  • ‘राहू’ और ‘केतू’ सितम्बर महीने तक क्रमशः मिथुन राशि और धनु राशि में रहेंगे और सितम्बर के बाद वृषभ और वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे, और पूरे वर्ष पर्यन्त रहेंगे |
  • ‘मंगल’ इस पूरे  वर्ष पर्यन्त क्रमशः धनू, मकर, कुम्भ, मीन और मेष राशि में रहने वाले हैं |
  • इस वर्ष ‘शनि ढ़ैया’ जनवरी में वृषभ और कन्या राशि के लिये समाप्त होगी  परन्तु तुला और मिथुन राशि के लिये शनि ढ़ैया प्रारम्भ होगी |
  • ‘शनि साढ़ेसाती’ से इस वर्ष वृश्चिक राशि पूरी तरह से मुक्त रहेगी |
  • धनु  राशि के लिये ‘शनि साढ़ेसाती’ का अन्तिम वर्ष रहेगा , मकर राशि के लिये मध्य वर्ष रहेगा और कुम्भ राशि के लिये ‘शनि साढ़ेसाती’ प्रारम्भ होगी |  

कॅरियर और फायनेंस की दृष्टि से इस वर्ष आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी | कार्य-व्यापर में जो रुकावटें आ रहीं थीं वो इस वर्ष में कम होंगी | आपके रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे | इस वर्ष के फरवरी महीने के बाद आपके कार्य-व्यापार के साथ साथ पद प्रतिष्ठा  में  भी  वृद्धि होगी | इस वर्ष थोड़े-बहुत उतार-चढ़ाव के साथ आपको अत्यधिक ख्याति (प्रसिद्धि ) प्राप्त होगी | आपके काम करने की क्षमता बढ़ेगी | आपकी बुद्धि तेज होगी | आपकी इच्छाएं बढ़ेंगी तथा पूरी भी होंगी | आप समर्पित होकर जिम्मेदारी पूर्वक कार्य को करेंगे | जिसका परिणाम आपको बहुत अच्छा मिलेगा |

कार्य क्षेत्र में स्थान परिवर्तन का योग बना हुआ है | आर्थिक दृष्टिकोण से इस वर्ष आपकी आय बढ़ेगी | धन बचत अच्छी होगी | व्यापारिक क्षेत्र में धन निवेश कर सकते हैं ,ऐसी सम्भावना बनी हुई है | व्यापार कार्य में काफी उन्नति मिलेगी | सितम्बर महीने के बाद आपके भाग्य में अचानक कुछ परिवर्तन होगा | जिसके फलस्वरूप समय अच्छा चल रहा हो तो कुछ बुरा हो सकता है, और बुरा चल रहा हो तो अचानक कोई अच्छी  सूचना मिलने की सम्भावना बनी हुई है |

स्थाई सम्पत्ति के लिये भी काफी अच्छा समय है | प्रेम-सम्बन्धों तथा वैवाहिक दृष्टि से यह वर्ष आपके अनुकूल है | इस वर्ष के प्रथम भाग में फ़रवरी महीने के बाद रिश्तों में मधुरता रहेगी | एक-दूसरे के प्रति विश्वास और प्रेम बढेगा | आप एक-दूसरे का सम्मान करेंगे  तथा एक-दूसरे पर निर्भर रहेंगे | इस वर्ष (अप्रैल से जून) महीने के मध्य में बहुत से लोगों के लिये नये रिश्ते उत्पन्न हो सकते हैं |

जो लोग विवाह के योग्य हैं, उनके लिए विवाह होने की प्रबल सम्भावना बनी हुई है | विवाह में पहले से कोई अड़चने आ रहीं थीं, वो इस वर्ष दूर होंगी | रिश्तों के मामले में यह वर्ष शुभ संकेत दे रहा है | नए रिश्ते बनेंगे |

शिक्षा की दृष्टि से यह वर्ष आपके अनुकूल है | शिक्षा में अच्छी सफलता का योग बना हुआ है | स्थान बदलने का योग बन रहा है | शिक्षा के बीच सत्र में किसी कारणवश  स्थान बदलना पड़ेगा | इस वर्ष आपको किसी भी प्रकार की शिक्षा प्रतियोगिता में अच्छी सफलता मिलेगी |

स्वास्थ की दृष्टि से यह वर्ष सामान्य रहेगा | जो ह्रदय रोगी हैं उनके लिए अचानक कुछ कठिनाई बढ़ सकती है | जो लोग बहुत ज्यादा बैठ कर कार्य करते हैं उन्हें, नस से सम्बन्धित छोटी-मोटी समस्या हो सकती है | जोड़ों में दर्द और शारीर में फुर्ती की कमी रहेगी | आलस्य आप पर हावी रहेगा | आपके माता के स्वास्थ की समस्या आपको परेशानी में डाल सकता है | वैचारिक मतभेद अथवा पारिस्थि के कारण संतान से दूरी बनेगी   | माता की सेहत आपको परेशान करेगी | लम्बी बिमारी के कारण दुखद समाचार मिलने की सम्भावना बनी हुई है | आप बहुत जल्दी क्रोधित होंगे | जो आपके लिए हानिकरक है | पिता के साथ रिश्ते बिगड़ सकते हैं |

सावधानी

  • आप अपने स्वास्थ के प्रति सावधानी बरतें |
  • आलस्यता को हावी ना होने दें |
  • संतान से वैचारिक मतभेद ना बनायें |
  • माता के स्वास्थ के प्रति बेहद सतर्कता बरतें |
  • अपने क्रोध को नियन्त्रित करें |
  • कार्यस्थल पर जो लोग आपके साथ काम करने वाले हैं और अपने पिता के  साथ वैचारिक मतभेद से बचें |
  • सितम्बर महीने के बाद किसी अचल सम्पत्ति में निवेश कर सकते हैं |

राशिफल 2020मेष राशिफल 2020वृषभ राशिफल 2020मिथुन राशिफल 2020कर्क राशिफल 2020/ सिंह राशिफल 2020तुला  राशिफल 2020वृश्चिक राशिफल 2020/धनु राशिफल 2020/ मकर राशिफल 2020कुम्भ राशिफल 2020मीन राशिफल 2020

शुभम भवतु 

पं. दीपक दूबे (View Profile)


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web