" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे

Aries

वृषभ राशि को काल पुरुष की कुंडली में दूसरा स्थान प्राप्त है और इसका स्वामी ग्रह शुक्र है. लग्न स्वामी शुक्र होने के कारण वृषभ लग्न के जातक प्रायः गौरवर्ण एवं दिखने में आकर्षक और सुंदर  होते हैं. शारीरिक रूप से पुष्ट, मस्त चाल एवं मज़बूत कद काठी के स्वामी होते हैं. वृषभ लग्न के जातक स्वाभिमानी एवं स्वछन्द विचारो वाले होते हैं. शीतल स्वभाव इनकी विशेषता कही जा सकती है. स्वाभाव से दयालु एवं सहनशील होते हैं वृषभ लग्न के जातक …….और पढ़ें

 

 

साप्ताहिक राशिफल (वृषभ राशि) / Weekly Horoscope Vrishabh Rashifal

साप्ताहिक राशिफल 21 मई – 27 मई  2018 

पारिवारिक सुख में वृद्धि होगी। इस समय जीवन साथ के साथ या जीवन साथी से सलाह लेकर काम शुरू करने से भाग्योदय हो सकता है। इस समय आय से संबंधित कुछ परेशानियां आ सकती हैं। इस समय कर्ज लेने से बचें। इस समय लिए गए कर्ज को चुकाने में काफी परेशानी आ सकती है। इस समय रोग और शत्रु परेशान कर सकते हैं। लोगों के साथ वाद विवाद हो सकता है। लोगों से धोखा मिल सकता है।

मई राशिफल 2018 वृषभ राशि /MayRashifal 2018 : Vrishabh Rashifal

Click Here For Horoscope 2018 /राशिफल 2018 के लिए क्लिक करें

 

कोई शुभ समाचार मिल सकता है। भाग्य साथ नहीं देगा लेकिन बुद्धि और वाणी के बल पर लाभ मिल सकता है। पदोंन्नति की संभावना कम है। इस समय पराक्रम बढेगा लेकिन नकारात्मक दृष्टी से, जिसकी वजह से संबंधों में खटास या कमी आ सकती है। इस समय में भाग्य साथ नहीं देगा इस लिए कोई भी बड़ा निर्णय न लें। शिक्षा के मामले में यह समय सही नहीं है। इस समय रोग हावी रहेंगे। निवेश की दृष्टी से यह समय सामान्य है। जीवन साथी से सहयोग मिलेगा और भाग्योदय होगा।

Vrishabh Rashifal 2018 : वृषभ राशिफल 2018 

vrishabha-150

वृषभ राशिफल 2018 सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है. वर्ष 2018 का राशिफल वृषभ लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है.  राशिफल 2018 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष परिस्थिति में अपनी कुंडली की जाँच कराकर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचे . अच्छे या बुरे परिणाम आपकी वर्तमान दशा- अंतर दशा पर निर्भर करते हैं.

 वर्ष 2018 में ग्रहों की स्थिति

  • बृहस्पति:  बृहस्पति वर्ष 2018 के आरम्भ में आपके छठे  भाव में हैं और वर्ष के आधे से अधिक समय तक यानीअक्टूबर मध्य  तक इसी भाव में बने रहेंगे.
  • शनि: शनि वर्ष 2018 के आरम्भ में आपके अष्टम  भाव में हैं तथा पूरे वर्ष पर्यंत यहीं बने रहेंगे.
  • राहु : वर्ष 2018 के आरम्भ से लेकर  पूरे वर्ष पर्यंत  आपके तीसरे  स्थान पर रहेंगे .
  • केतु : वर्ष 2018के आरम्भ से लेकर  पूरे वर्ष पर्यंत  आपके नवम  स्थान पर रहेंगे
  • विशेष:  यदि चन्द्रमा भी वृषभ राशि में है अर्थात आपकी चन्द्र  राशि  भी  वृषभ  है तो वर्ष 2018 में  आप  शनि की ढैय्या” से गुजरेंगे. (परिणाम जानने के लिए क्लिक करें )

आर्थिक स्थिति : आर्थिक रूप से वर्ष 2018 आपके लिए बहुत सोच समझ कर कदम उठाने वाला वर्ष साबित होगा. किसी भी प्रकार का नया प्रयोग , निवेश या नई योजना आपको खतरे में डाल सकती हैं. कोई भी बड़ा आर्थिक निवेश या बिना सोचे समझी की गई खरीदारी बेवजह आपको क़र्ज़ में डाल सकती है. घर परिवार की आवश्यकताओं को कम करने का प्रयत्न करें तथा बचत की ओर ध्यान बढायें.

शेयर मार्किट या आर्थिक जोखिम कुछ लोगों के लिए अचानक धन हानि का योग बनाएगा क्योंकि उत्तेजित होकर हो सकता है आप वर्ष 2018 में नई योजनायें बनायें तथा नए प्रयोग करें. हालाँकि सतर्क व्यवहार और कागज़ी कार्यवाही पर पैनी नज़र आपको किसी बड़ी हानि से बचा सकती है.

किसी बहुत करीबी मित्र या रिश्तेदार को कार्य व्यापार से अलग रखें. अपने नए अनुबंध या किसी भी प्रकार के निवेश की योजना को मित्रों के साथ साझा न करें. कुल मिलकर वर्ष 2018 आर्थिक जोखिम लेने का वर्ष नहीं है. सतर्कता और निजता आपके लिए आवश्यक है.

कार्य और व्यापार :  वर्ष 2018 में ग्रहों की स्थितियां आपके पराक्रम एवं शौर्य को बढ़ाएगी . आप उन्नति और अपने भाग्योदय के प्रति बहुत सजग एवं प्रयत्नशील रहेंगे. इस समय आपको आगे बढ़ने के अवसर भी मिलेंगे. रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे  व्यापार तथा लेखन कार्य से जुड़े जातकों के लये बेहतर समय है.

आप अपने क्षेत्र में सफलता एवं प्रसिद्धि पाएंगे. व्यापारिक समस्याओं का समाधान होगा. मित्रता को कार्य व्यापार से न ही जोड़े तो बेहतर होगा क्योंकि मित्रों से धोखा मिलने की संभावना बनी रहेगी. वर्ष 2018 में आप की रूचि नए कार्यों और नवीन खोज या आविष्कारों में अधिक होगी. मानसिक सवेदना बढ़ी – चढ़ी रहेगी फलस्वरूप चैन से भोजन नहीं कर पाएंगे, कोई ना कोई तनाव घेरे रहेगा . गूढ़ विद्याओं की ओर आपकी रूचि पहले से ही है परन्तु इस वर्ष ग्रहों की स्थिति इस रूचि को ओर अधिक बढ़ावा देगी.

आपके अथक प्रयास और परिश्रम के फलस्वरूप आपको वर्ष 2018 में सामाजिक – राजनैतिक – आर्थिक और व्यवसायिक उन्नति अवश्य होगी. सरकार से जुड़े कार्यों से भी आप लाभान्वित होंगे.

शिक्षा:  वर्ष 2018 विद्यार्थियों के लिए एक महतवपूर्ण वर्ष होने जा रहा है. वृषभ लग्न के जातक जो लम्बे समय से संघर्षरत थे और सफलता की इंतज़ार में थे इस वर्ष अपने परिश्रम अनुरूप परिणाम पायेंगे. आपने समय और परिश्रम के महत्व को भली भाँती समझा है .फलस्वरूप सफलता इस वर्ष आपको गले लगाएगी.

शिक्षा प्रतियोगिता के लिए यदि आप तैयारी कर रहे हैं तो अपने प्रयासों को और अधिक बढाएं . पारिवारिक समस्याएं या आर्थिक तंगी आपके ध्यान को भटका सकती हैं परन्तु बीता हुआ समय दोबारा नहीं आएगा यह बात आपको समझनी पड़ेगी . समय का सदुपयोग और एकाग्रता ही आपकी सफलता की कुंजी है. कुल मिलाकर वर्ष 2018 का समय आपके लिए अनुकूल है परिश्रम करें सफलता अवश्य मिलेगी.

पारिवारिक सामाजिक : वर्ष 2018 आपके जीवन में मानसिक शांति लायेगा. लम्बे समय से चली आ रही उलझनों एवं समस्याओं का अंत होगा तथा आप अपने परिवार और समाज में मान सम्मान पाएंगे. ग्रहों की स्थितियां आपके पराक्रम एवं शौर्य को बढ़ाएंगी. स्वास्थ्य सामान्य एवं मन शांत रहेगा. अपने से बड़ों का आशीर्वाद मिलेगा तथा परिवारजनों का सहयोग एवं स्नेह प्राप्त होगा.
पिता या बढे भाई का मार्गदर्शन मिलता रहेगा. करीबी मित्रों से सतर्कता आवश्यक है किसी भी प्रकार की महत्वपूर्ण या गुप्त
योजना को आप किसी के साथ साझा न करें क्योंकि मित्रों से धोखा मिलने के योग बने हुए हैं.

इस वर्ष मध्य में आपकी मानसिक सवेदना बढ़ी – चढ़ी रहेगी फलस्वरूप किसी बड़ी उलझन के न होते हुए भी आप अपने आपको उलझा हुआ और तनाव ग्रस्त पाएंगे. यह स्थिति 3-4 माह तक बनी रह सकती है . मानसिक संतुलन बनाये रखने के लिए आपको स्वयं हे प्रयत्न करना होगा.
संतुलित आहार , व्यायाम तथा व्यसन से दूरी शीघ्र ही आपको तनाव से मुक्ति देगी. गूढ़ विद्याओं की ओर आपकी रूचि बढ़ेगी . आप अपने ननिहाल पक्ष को सुख देने में समर्थ होंगे. किसी नजदीकी रिश्तेदार तथा कुछ लोगों को जीवन साथी के बिछोह का शोक हो सकता है.
इस समय कामोत्तेजना बहुत बढ़ेगी अतः नए रिश्ते बनाने से बचें अन्यथा बहुत अपमान की स्थिति उत्पन्न कर सकता है. वृषभ लग्न के वे जातक जिनकी आयु 50 वर्ष से अधिक है उनके लिए यह अत्यंत ही कष्टकारी होगा गुप्त शत्रुओं की गिनती बढेगी.
किसी तीर्थ स्थल की यात्रा संभव है. . इस समय आप सामाजिक व धार्मिक कार्यों द्वारा धन अर्जित कर सकते हैं. विवादों से दूरी बनाये रखें तथा कोर्ट कचेहरी के मामलो से जहाँ तक हो सके बचें क्योंकि वहां समस्याएं उत्पन्न होंगी.

सावधानी

  • वाणी और क्रोध पर नियंत्रण आवश्यक है.
  • कड़वे वचन न बोले.
  • यदि कुंडली में ‘काल सर्प योग‘ है तो राहु की दशा अन्तर्दशा में पराक्रम भंग होगा और मित्रों से धोखा मिल सकता है.
  • इस वर्ष स्वास्थ्य बड़ा मुद्दा हो सकता है.
  • कार्य – व्यापार में उतार चढाव संभावित है.
  • आर्थिक जोखिम ना लें.
  • स्वास्थ्य ख़राब हो तो शनि मृत्युंजय करें /कराएँ नियमित शिव की पूजा करें

शुभम भवतु 

पं. दीपक दूबे

मेष राशिफल 2018मिथुन राशिफल 2018कर्क राशिफल 2018सिंह राशिफल 2018कन्या राशिफल 2018तुला  राशिफल 2018वृश्चिक राशिफल 2018/धनु राशिफल 2018मकर राशिफल 2018कुम्भ राशिफल 2018मीन राशिफल 2018


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web