" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
Pt Deepak Dubey

Aries

वृषभ राशि को काल पुरुष की कुंडली में दूसरा स्थान प्राप्त है और इसका स्वामी ग्रह शुक्र है. लग्न स्वामी शुक्र होने के कारण वृषभ लग्न के जातक प्रायः गौरवर्ण एवं दिखने में आकर्षक और सुंदर  होते हैं. शारीरिक रूप से पुष्ट, मस्त चाल एवं मज़बूत कद काठी के स्वामी होते हैं. वृषभ लग्न के जातक स्वाभिमानी एवं स्वछन्द विचारो वाले होते हैं. शीतल स्वभाव इनकी विशेषता कही जा सकती है. स्वाभाव से दयालु एवं सहनशील होते हैं वृषभ लग्न के जातक …….और पढ़ें

 

 

साप्ताहिक राशिफल (वृषभ राशि) / Weekly Horoscope Vrishabh Rashifal

साप्ताहिक राशिफल 3 दिसम्बर – 9 दिसम्बर 2018

 Rashifal 2019 /राशिफल 2019

कॅरियर और व्यापारिक दृष्टिकोण से इस सप्ताह अचानक पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि मिलाने की सम्भावना बन रही है | व्यापारिक दृष्टि से यह सप्ताह काफी अच्छा है | कोई नया व्यापार प्रारम्भ कर सकते हैं | इसमें आपको लाभ मिलेगा | साझेदारी में कोई व्यापार करना चाहते हैं तो करें इसमें भी आपको लाभ मिलेगा | कार्य-स्थल पर किसी से तेज विवाद होने की सम्भावना है | आर्थिक दृष्टि से इस सप्ताह अचानक कहीं धनहानि का योग बना हुआ है | अचानक किसी से कर्ज लेने की स्थिति उत्पन्न हो सकती है | शिक्षा की दृष्टि से यह सप्ताह सामान्य है | प्रेम-सम्बन्धों तथा वैवाहिक जीवन की दृष्टि से इस सप्ताह नए सम्बन्ध बनेंगे | स्वास्थ की दृष्टि से इस सप्ताह ठंड से सम्बन्धित छोटे-छोटे रोग जैसे – जुकाम, काफ इत्यादि होने की सम्भावना है | वाहन से दुर्घटना की सम्भावना है |
सावधानी – कार्य-स्थल पर विवाद से बचें | स्वास्थ के प्रति सतर्क रहें | वाहन चलाते समय सावधानी बरतें |

 

दिसम्बर राशिफल 2018 वृषभ राशि /December Rashifal 2018 : Vrishabh Rashifal

 Rashifal 2019 /राशिफल 2019

इस महीने आपके आय में वृद्धि होगी तथा निरन्तरता बनी रहेगी | व्यापार के क्षेत्र में भी वृद्धि के आसार बने हुए हैं | व्यापार के लिए नए व् अच्छे अवसर मिलेंगे | जिसके कारण आमदनी में वृद्धि होगी | नौकरी के स्थान (कार्यालय) में इस महीने तनावपूर्ण स्थिति रहेगी तथा अचानक और बढ़ने की सम्भावना है | बड़े अधिकारियों के साथ सम्बन्ध बिगड़ सकते हैं | अचानक किसी से ज्यादा वाद-विवाद हो सकता है | जिसके कारण स्थान परिवर्तन होने की सम्भावना है | वैवाहिक जीवन तथा प्रेम-सम्बन्धों की दृष्टि से यह महीना आपके अनुकूल है | वैवाहिक जीवन में एक दुसरे के प्रति प्रेम बढेगा, तथा जीवन-साथी के प्रति विश्वास बढेगा | लम्बे समय तक एक दूसरे का साथ रहेगा | जीवन साथी के स्वास्थ सम्बंधित समस्या को लेकर आप परेशान रहेंगे तथा आपका समय व्यर्थ होगा | प्रेम-सम्बन्धों में वृद्धि होगी | नए रिश्ते जन्म लेंगे | मानसिक शान्ति रहेगी | लम्बे समय से चल रहे प्रेम-सम्बन्ध को विवाह में परिवर्तित करना चाहें तो इसके लिए अच्छा समय है, कर सकते हैं | रिश्तों में गहराई होगी | इस महीने आपके सुख-सुविधाओं पर आधिक धन खर्च होंगे | परिवार के अन्य सदस्यों जैसे- भाई, बहन, माता-पिता, बुआ इत्यादि से मनमुटाव रहेगा | आप भी तनावग्रस्त रहेंगे | अन्य लोगों पर आप विश्वास नहीं करेंगे | जिसके कारण आप कहीं न कहीं विवाद को जन्म देंगे | स्वास्थ के मामले में यह महीना आपके विपरीत है | शारीरिक कष्ट होगा | तथा इस महीने परिश्रम इतना अधिक होगा जो आपको थका देगा |

सावधानी – कार्यस्थल पर अपने बड़े अधिकारियों के साथ तनाव से बचें | स्वास्थ के प्रति सचेत रहें | परिवार के अन्य सदस्यों के साथ विवाद से बचें | करीबियों पर भरोसा रखें |

Vrishabh Rashifal 2019 : वृषभ राशिफल 2019

 Rashifal 2018 /राशिफल 2018 

vrishabha-150

वृषभ राशिफल 2019 सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है. वर्ष 2019 का राशिफल वृषभ लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है.  राशिफल 2019 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष परिस्थिति में अपनी कुंडली की जाँच कराकर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचे . अच्छे या बुरे परिणाम आपकी वर्तमान दशा- अंतर दशा पर निर्भर करते हैं.

विशेष :

  • इस वर्ष कुल 5 ग्रहण लग रहे हैं जिसमे दो ग्रहण जनवरी में , २ जुलाई में और एक दिसम्बर में है. 
  • देश के लिए बहुत उतार – चढाव और अस्थिरता का वर्ष.
  • भीषण प्राकृतिक आपदा के संकेत.
  • इस वर्ष शनि केतु की युति होगी.  इससे पूर्व वर्ष 1870 में इस प्रकार का संयोग बना था. अब शनि केतु युति 57 वर्ष उपरान्त 2076 में होगी.
  • मार्च में राहू और केतु तथा नवम्बर में गुरु का राशि परिवर्तन होगा.
  • इस वर्ष शनि राशि परिवर्तित नहीं करेंगे.
  • शनि साढ़े साती – वृश्चिक , धनु और मकर पर वर्ष पर्यंत रहेगी .
  • शनि की ढैय्या – वृषभ और कन्या पर वर्ष पर्यंत रहेगी. 

आर्थिक स्थिति तथा कार्य-व्यापार  यह वर्ष आपके लिए चुनौतीपूर्ण रहने वाला है | कॅरियर की दृष्टि से इस वर्ष आपको कठिनाईयों का सामना करना पड़ सकता है | कार्यक्षेत्र में बड़े लोगों (अधिकारियों) से वाद-विवाद होने की सम्भावना है | कार्यस्थल से स्थान परिवर्तन हो सकता है | इस वर्ष स्थिति संघर्षपूर्ण रहेगी | भाग्य आपका साथ नहीं देगा | इसके कारण आवश्यकता से अधिक प्रयत्नशील होना पड़ेगा | चीजें नाकारात्मक होंगी | आर्थिक दृष्टि इस वर्ष धन अधिक खर्च होगा | इसकी अपेक्षा लाभ कम होगा | पदोन्नति की कोई सम्भावना नहीं है | आय में निरन्तरता बनी रहेगी तथा बीच-बीच में आय में वृद्धि होगी | इस वर्ष का शुरूआती महीना (जनवरी, फरवरी, मार्च, अप्रैल) आपको अच्छा मौक़ा देगा | मानसिक तनाव बढ़ेगा | जल्दबाजी में कोई निर्णय ना लें | इस वर्ष आपको कई ऐसे अवसर मिलेंगे, जिससे आपको यह आभास  होगा की ऐसा करने से लाभ होगा | तो इसके लिए अच्छी तरह सोच-समझकर निर्णय लेने की आवश्यकता है | व्यापारिक दृष्टि से इस वर्ष किसी व्यापार-कार्य में बड़े निवेश से बचना है |

वैवाहिक जीवन तथा प्रेम-सम्बन्ध: प्रेम-सम्बन्ध और वैवाहिक जीवन की दृष्टि से इस वर्ष जो लोग विवाह के योग्य हैं, और विवाह करना चाहते हैं | उनके लिए अच्छा संयोग बन रहा है | प्रेम-सम्बन्धों में उतार-चढ़ाव रहेगा | मानसिक  संतुष्टि नहीं मिलेगी , जिसके कारण आप तनावग्रस्त रहेंगे | रिश्ते टूट सकते हैं | रिश्तों में अस्थिरता रहेगी |

शिक्षा : शिक्षा की दृष्टिकोण से यह वर्ष आपके लिए सामान्य है | जो लोग उच्च स्तर की पढ़ाई कर रहे हैं  उनके लिए यह वर्ष काफी अच्छा है | अच्छी सफलता हाँसिल कर सकते हैं | जो लोग विदेश में पढ़ाई कर रहे हैं, उनके लिए भी यह वर्ष अच्छा रहेगा परन्तु आपके ऊपर आलस  हावी रहेगा |

स्वास्थ्य: स्वास्थ की दृष्टि से यह वर्ष बिल्कुल अच्छा नहीं है | बहुत से लोगों के लिए सर्जरी की समस्या, फ्रैक्चर, घटना-दुर्घटना इत्यादि की समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है |

सावधानी –

  • इस वर्ष आपको अपने स्वास्थ के प्रति सतर्क रहने की आवश्यकता है | इसके लिए “भगवान गणेशजी, तथा शिवजी” की पूजा करें |
  • आर्थिक क्षेत्र में निवेश ना करें |
  • आलस्य का परित्याग करें |
  • कार्यस्थल पर बड़े अधिकारियों से वाद-विवाद से बचें |
  • धन खर्च पर अंकुश लगायें | विशेष रूप से वर्ष का अप्रैल, नवम्बर और दिसम्बर महीना स्वास्थ की दृष्टि से हानिकारक है |                  

 राशिफल 2019मेष राशिफल 2019मिथुन राशिफल 2019कर्क राशिफल 2019सिंह राशिफल 2019कन्या राशिफल 2019तुला  राशिफल 2019वृश्चिक राशिफल 2019/धनु राशिफल 2019मकर राशिफल 2019कुम्भ राशिफल 2019मीन राशिफल 2019

शुभम भवतु 

पं. दीपक दूबे


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web