" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे
" ज्योतिष भाग्य नहीं बदलता बल्कि कर्म पथ बताता है , और सही कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है इसमें कोई संदेह नहीं है "
- पं. दीपक दूबे

Aries

कन्या राशि को काल पुरुष की कुंडली में छठा स्थान प्राप्त है , इसका स्वामी ग्रह बुध है . कन्या लग्न में जन्मा जातक मझोले कद और समान्यतः भरे हुए चेहरे वाला होता है. नेत्र काले और घुंघराले बाल इनकी पहचान होती है. कन्या लग्न के जातकों में स्त्री स्वभाव की झलक साफ़ दिखाई देती है.  कन्या राशि में यदि चन्द्रमा हो तो मनुष्य में स्त्रियों के हाव भाव आना स्वाभाविक है.लज्जा, संकोच युक्त दृष्टि एवं झुके हुए कंधे एवं लटकी हुई भुजाएं ऐसे मनुष्य के लक्षण होते हैं….आगे पढ़ें 

 

 

साप्ताहिक राशिफल (कन्या राशि) /Weekly Horoscope Kanya Rashifal

साप्ताहिक राशिफल 21 मई – 27 मई  2018 

कन्या राशि के जातकों के लिए यह समय कुछ कठिन है। परिश्रम का पूरा लाभ मिलने में कुछ परेशानी हो सकती है। कार्य की सफलता के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ेगी। कुल मिलाकर या समय थका देने वाला रहेगा। रोग और शत्रु परेशान कर सकते हैं। इस समय भाग्य के भरोसे सफलता मिल सकती है जबकि मेहन या कर्म के आधार पर सफलता मिलने परेशानी आ सकती है। इस समय कोई पुरानी खोई हुई चीज अचानक मिल सकती है। कोई शुभ समाचार मिल सकता है। यात्रा का योग बन रहा है। इस समय परिवार के सुख में कमी आ सकती है। क्रोध बढ़ सकता है। स्वभाव में उतावलापन रहेगा। सोच को सकारात्मक रखने की आवश्यकता है।

मासिक राशिफल मई  2018 : कन्या राशि/ Monthly Horoscope Virgo : May 2018

Click Here For Horoscope 2018 /राशिफल 2018 के लिए क्लिक करें

 

14 मई से भाग्येश की स्थिति बन रही है लेकिन बुद्ध की स्थिति ाराब होने से मेहनत ज्यादा करनी पड़ेगी तथा मेहनत का फल कम मिलेगा। माह के अंतिम भाग में मान सम्मान मिल सकता है। अचानक सफलता मिल सकती है। आय की दृष्टी से यह समय अच्छा है लेकिन आय के माध्यम का जरूर ध्यान रखें। पद प्रतिष्ठा मिल सकती है। स्थान परिवर्तन से लाभ मिल सकता है। बड़ों का सहयोग मिलेगा। वैवाहिक जीवन में तनाव रहेगा। क्रोध की अधिकता रहेगी। संतान की दृष्टी से यह समय बहुत ही खराब है। संतान के स्वास्थ्य आदि का विशेष ध्यान रखें। गर्भवती महिलाएं अपने स्वास्थ्य का विशेष रूप से ध्यान रखें। परीक्षा प्रतियोगिता में कुछ परेशानियां होंगी। स्वास्थ्य की दृष्टी से यह समय सामान्य है। लेकिन हृदय रोगी अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। माता के स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें।

Kanya Rashifal 2018 : कन्या राशिफल 2018

Aries

कन्या राशिफल 2018 सूर्य या चन्द्र राशि पर आधारित न होकर लग्न पर आधारित है. वर्ष 2018 का राशिफल कन्या लग्न के जातकों के स्वास्थ्य , व्यापार , भाग्य और वैवाहिक जीवन से सम्बंधित है. कन्या राशिफल 2018 बहुत ही सामान्य आधार पर है अतः किसी विशेष परिस्थिति में अपनी कुंडली की जाँच कराकर ही किसी निष्कर्ष पर पहुंचे . अच्छे या बुरे परिणाम आपकी वर्तमान दशा- अंतर दशा पर निर्भर करते हैं.

 वर्ष 2018 में ग्रहों की स्थिति

  • बृहस्पति:  बृहस्पति वर्ष 2018 के आरम्भ में आपके द्वितीय भाव में हैं और वर्ष के आधे से अधिक समय तक यानी अक्टूबर मध्य  तक इसी भाव में बने रहेंगे.
  • शनि: शनि वर्ष 2018 के आरम्भ में आपके चतुर्थ  भाव में हैं तथा पूरे वर्ष पर्यंत यहीं बने रहेंगे.
  • राहु : वर्ष 2018 के आरम्भ से लेकर  पूरे वर्ष पर्यंत  आपके एकादश  स्थान पर रहेंगे 
  • केतु : वर्ष 2018के आरम्भ से लेकर  पूरे वर्ष पर्यंत  आपके पंचम स्थान पर रहेंगे

विशेष:  यदि चन्द्रमा भी कन्या राशि में है अर्थात आपकी चन्द्र राशि  भी  कन्या  है तो वर्ष 2018 में  आप पर  “शनि की ढैय्या” का प्रभाव रहेगा. अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें . 

आर्थिक स्थिति: वर्ष 2018 में आपको आर्थिक मामलों में उतार चढाव दोनों का ही सामना करना पड़ेगा . लाभ में कुछ कमी आएगी. धन की आवक पहले की अपेक्षा कुछ कम रह सकती है. आर्थिक क्षेत्रों में कुछ अडचनों का सामना करना पड़ सकता है.
आर्थिक स्थिति को सुधरने के प्रयास में आप नयी योजनाओं पर विचार कर सकते हैं परन्तु लाभ अर्जित करने में समय लग सकता है.
किसी प्रकार के निवेश या नयी योजनाओं को कार्यान्वित करने में रुकावटें पैदा होंगी. साझेदारीके कार्यों में हाथ डालने से पहले सोच विचार करना सही होगा.
आर्थिक अस्थिरता के कारण मन विचलित होगा. कुछ लोगों को अपने घर से दूर जाने की स्थिति भी बनेगी. अनावश्यक भाग दौड़ और परिवार से दूरी आपको मानसिक कष्ट दे सकती है परन्तु यह स्थिति बहुत दिनों तक नहीं बनी रहेगी अतः धैर्य का परिचय देते हुए कार्यों और योजनाओं को पूर्ण करें .
अधूरे छोड़े हुए कार्य आपको आर्थिक हानि पहुंचाएंगे तथा आप अपना सम्मान भी खो देंगे. हालाँकि रुके हुए कार्योंको पूरा करने के लिए बहुत परिश्रम करना पड़ेगा परन्तु यह असंभव नहीं है. अक्टूबर माह के बाद स्थितियां सुधरने लगेंगी. भाग्य का साथ मिलने लगेगा तथा आपका परिश्रम रंग लायेगा. वर्ष के अंत तक आते आते आपको आर्थिक रूप से मजबूती मिलेगी तथा आप शांति महसूस करने लगेंगे. पुराने चले अ रहे कर्जों से आपको छुटकारा मिलगा और आप राहत की सांस लेंगे.

कार्य व्यापार : जो जातक नौकरी पेशा हैं अर्थात स्थिर आय प्राप्त करने वाले जातकों के लिए यह वर्ष उन्नतिदायक होगा. मनोबल बहुत ऊंचा रहेगा अतः कुछ नया प्रयोग या नई योजनाओं पर आप कार्य कर सकते हैं. उच्च अधिकारियों से सम्बन्ध मधुर रहेंगे तथा पदोन्नति के योग बनेंगे. यदि कार्य क्षेत्र में आपकास्थान परिवर्तन भी होता है तो फल लाभदायी होंगे.

व्यापारी वर्ग के लिए वर्ष 2018 में लाभ में कुछ कमी आएगी . व्यापार क्षेत्र में सफलता के लिए निरंतरप्रयास करना पड़ेगा. आर्थिक मामलों में उतार चढाव दोनों का ही सामना करना पड़ेगा अर्थात स्थिरता में कमी रहेगी कुछ लोगों को अपने घर से दूर जाने कीस्थिति भी बनेगी.
वित्तीय समझौतों में सतर्कता बहुत आवश्यक होगी. किसी अनुभवी से किया गया परामर्श आपके लिए लाभदायक होगा.

शिक्षा: वर्ष 2018 विद्यार्थियों को ओर अधिक परिश्रम करने को प्रेरित करेगा. वर्ष भर कुछ न कुछ रुकावट का सामना करना पड़ेगा . इस वर्ष सफलता बहुतआसानी से नहीं मिलेगी. आपको अपने प्रयास ओर अधिक बढाने होंगे नहीं तो हाथ आया अवसर आप गँवा देंगे. इस समय आपको एकाग्र और शांत चित्त होकर अपना सारा ध्यान अपने लक्ष्य की ओर लगाना होगा.
बुरी संगत और व्यर्थ के विवादों से अपने आप को दूर रखें. किसी मित्र की अपने सामर्थ्य से अधिक की गयी मदद आपको परेशानी में डाल सकती है . आपको अपनी सोच सकारत्मक तथा मनोबल ऊंचा बनाये रखना होगा.

उच्च विद्या प्राप्ति में भी रुकावट के योग बनेंगे परन्तु प्रयासों में निरंतरता बनाये रखनी होगी. आपकी थोड़ी लापरवाही बहुत अधिक हानि पहुंचाएगी. अपने. अनावश्यक भाग दौड़ भी बनी रहेगी . जो लोग शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करते हैं उन्हें सफलता मिलेगी साथ ही पद प्रतिष्ठा की प्राप्ति भी होगी.यदि आप कवि, लेखक ज्योतिष अथवा वैज्ञानिक हैं तो अपने कार्यों से धन एवं यश की प्राप्ति करेंगे.
सामाजिक एवं पारिवारिक स्थिति: वर्ष 2018 पारिवारिक उलझनों का वर्ष रहेगा. इस समय आपको क्रोध बहुत बढ़ सकता है , छोटी – छोटी बातों पर आप भड़क उठेंगे साथ ही थोड़ी स्वार्थपरता भी बढ़ेगी. फलस्वरूप मामूली घरेलु झगडे बड़े विवाद में परिवर्तित हो जायेंगे. परिवार को समय न दे पाना भी विवाद का मुख्यकारण बनेगा .
कुछ व्यावसायिक यात्राएं आपके अपने जीवन साथी से दूरी बनायेंगी. आपको अपने ऐशो आराम की वस्तुओं को जुटाने में आवश्यकता से अधिकप्रयास करने पड़ेंगे . आध्यात्मिक एवं आर्थिक क्षेत्रों में भी कुछ अडचनों का सामना करना पड़ सकता है. भाई बहनों से भी विवाद की स्तिथि उत्पन्न हो सकती है हालाँकि इसके कारण आप ही होंगे क्योंकि आपमें उत्तेजना बहुत अधिक बढ़ी हुई रहेगी.
आपके कारण आपके भाई बहनों को हानि उठानी पड़ सकती है. अतः. पारिवारिक सुख में कुछ कमी महसूस करेंगे. यदि इस वर्ष आप नए मकान या वाहन खरीदने की योजना बना रहे हैं तो रुकावट आ सकती है. पैत्रिक संपत्ति के मामले भी जल्दी नहीं सुलझेंगे. इनसे सम्बंधित कार्यों में सफलता के लिए बहुत और निरंतर प्रयास करना पड़ेगा

प्रेम संबंधों के लिए वर्ष 2018 उतार चढ़ाव भरा रहेगा. यदि आप प्रेम प्रसंग में हैं तो यह वर्ष मिला जुला परिणाम देगा . इसमें तनाव , तकरार और प्रेम सभी भाव रहेंगे. रिश्तों में और अधिक तनाव या टूटने तक की नौबत आ सकती है अतः सतर्क रहें और धैर्य से काम लें.
वैवाहिक जीवन में भी कुछ इसी प्रकार की परिस्तिथियाँ आ सकती हैं. यदि पहले से ही आपके संबंधों में कडवाहट आ चुकी है तो विवाह टूटने का खतरा बनेगा यह वर्ष संतति प्राप्ति में रुकावट डालेगा. हालाँकि अथक प्रयासों से आप सफलता प्राप्त करने में सक्षम रहेंगे. परन्तु प्रयास आपके सामर्थ्य से कहीं अधिक होंगे तभी सफलता मिलेगी. गर्भवती महिलायों को सावधान रहने की आवश्यकता है. चिकित्सीय परामर्श समय समय पर कराना आवश्यक होगा.

जिन जातकों को इस समय संतान सुख प्राप्त होगा उनका  भाग्य का उदय संतान प्राप्ति के बाद भी होगा .   विलम्ब से ही सही परन्तु आपको परिश्रम का फल अवश्य मिलेगा.
वर्ष के मध्य तक स्थितियां कुछ नकारात्मक रहेंगी परन्तु अंत तक आते आते कुछ सुधार होना आरम्भ हो जायेगा. सामाजिक एवं पारिवारिक मान सम्मानकी प्राप्ति होगी. शत्रु परास्त होंगे परन्तु माता –पिता के स्वास्थ्य तथा उनके साथ संबंधों के मामले में यह समय ठीक नहीं होगा.
ह्रदय रोगियों के लिए बहुत अधिक सावधानी का समय है. ग्रहों की स्थिति ठीक नहीं है अतः स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्याओं को नज़रंदाज़ न करें. वाहन चलाने में लापरवाही न बरतें और न ही अकेले अचानक कहीं यात्रा करें. यदि ऐसी कोई स्थिति बनती है तो किसी को साथ अवश्य ले जाएँ. वाहन दुर्घटना का भय बना रहेगा. वर्ष के अंतिम तीन माह में आपका स्वभाव बदलने लगेगा. मान शांत होता चला जायेगा तथा वाणी मीठी होगी.
पुराने चले आ रहे कर्जों से आपको मुक्ति मिलेगी तथा रोग एवं शत्रुओं सेछुटकारा मिलेगा. इस समय व्यवहार सौम्य रहेगा तथा सभी का भला एवं परोपकार चाहने वाली प्रवृत्ति होगी.

सावधानी एवं उपचार

  • गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी रखनी होगी.
  • विद्यार्थियों के लिए अधिक प्रयास और परिश्रम का समय रहेगा.
  • कान सम्बन्धी रोग से सावधान रहें.
  • यदि राहु की दशा चल रही हो तो संघर्ष की स्थिति बनेगी.
  • यदि शनि या केतु की दशा – अंतर है तो कर्यों में बहुत रूकावट आएगी .
  • कार्य स्थल पर अनावश्यक के तर्क – कुतर्क से बचें.
  • शनि की नियमित स्तुति करें और शनि सम्बन्धी दान करें.
  • श्री गणेश की आराधना करियर और शिक्षा में लाभकारी रहेगी

शुभम भवतु 

पं. दीपक दूबे (View Profile)

मेष राशिफल 2018वृषभ राशिफल 2018मिथुन राशिफल 2018कर्क राशिफल 2018सिंह राशिफल 2018तुला  राशिफल 2018वृश्चिक राशिफल 2018/धनु राशिफल 2018मकर राशिफल 2018कुम्भ राशिफल 2018मीन राशिफल 2018


Puja of this Month
New Arrivals
Copyright © 2017 astrotips.in. All Rights Reserved.
Design & Developed by : v2Web